ब्लॉग की सभी जरुरी सेटिंग्स करना सिखें – Blogger Settings In Hindi

Blogger Settings In Hindi अगर आपने blogger पे नया ब्लॉग बनाया है तो सबसे पहले आपको अपने Blogger Blog Ki Basic Settings Kaise Kare इसकी जानकारी होनी चाहिए यानि ब्लॉग की जरूरी सेटिंग्स को इनेबल एवं कुछ सेटिंग्स को डीजेबल करना बहुत ही जरूरी होता है।

क्योंकि इन सेटिंग्स को पूरा किए बिना आप ब्लॉग लिखना शुरू कर देते हैं तो फिर आपको इसका कुछ खास फायदा नहीं होने वाला है।

क्योंकि blog की basic settings को पूरा करने के बाद ही गूगल के crawler आपके web pages को crawl कर पाएंगे और फिर आपके पेजेस search engine में आ पाएंगे।

Blogger Settings In Hindi – Blogger Blog Ki Basic Settings Kaise Kare

Blogger Settings In Hindi वैसे तो अपने blog को search engine में rank कराना इतना आसान काम नहीं है लेकिन अगर आप मेहनत करते हैं और वो मेहनत सही दिशा में होता है तभी आपके द्वारा किए गए मेहनत का फल मिलता है और आपके पेजेस सर्च इंजन में रैंक होने लगते हैं।

और इसके लिए सबसे जरूरी काम होता है Blogger Blog Ki Basic Settings को ठीक करना, क्योंकि कुछ नए ब्लॉगर जिन को इसके बारे में पता नहीं होता है और वो अपने blog की बेसिक सेटिंग्स को ठीक तरीके से नहीं कर पाते हैं।

और इस वजह से उनके ब्लॉग पर बहुत सारे error या प्रॉब्लम आते हैं और फिर ऐसे में मेहनत करने के बाद भी कुछ खास रिजल्ट नहीं मिलता है क्योंकि उन्होंने अपने ब्लॉग की basic settings को ठीक से नहीं किया होता है।

अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है आपको नहीं पता कि आप अपने blog की basic settings को ठीक से किए हैं या नहीं तो फिर इस पोस्ट को पूरा पढ़िए एवं अपने blog की बेसिक सेटिंग्स को सुधारीये।

ब्लॉगर ब्लॉग का जरुरी सेटिंग्स कैसे करें

Blogger Settings In Hindi हाल ही में गूगल ने ब्लॉगर का नया अपडेट जारी किया है जिसके वजह से blogger का इंटरफेस पूरी तरह से चेंज हो चुका है जैसे पहले आपका ब्लॉगर का डैशबोर्ड दिखता था वैसे अब नहीं दिख रहा है।

इसलिए यहां पर हम ब्लॉगर का नया डैशबोर्ड के हिसाब से इसका basic settings के बारे में बताएंगे ताकि आपको किसी भी प्रकार का कोई दिक्कत ना आवे।

ब्लॉग का जरुरी सेटिंग्स करना सीखें

सबसे पहले आप अपने blogger के dashboard में login करिए एवं नीचे बांए साइड मे settings के ऊपर क्लिक करिए (नीचे चित्र देखें)

blogger settings in hindi

सेटिंग्स के ऊपर क्लिक करते हैं दाहिने साइड में बहुत सारे ऑप्शन आएंगे इसमें सबसे ऊपर Basic लिखा हुआ मिलेगा और उसके नीचे वो सारे settings हैं जिनको हमें ठीक करना है।

Title

इस लिस्ट में सबसे ऊपर Title के ऊपर क्लिक करना है और फिर अपने ब्लॉग का टाइटल डालना है उदाहरण के लिए मेरा ब्लॉग है rakhiimage.in तो मैं इसका टाइटल डालूंगा Rakhi Image और फिर Save के ऊपर क्लिक कर देना।

Description

Title सेव कर लेने के बाद उसके नीचे दूसरा ऑप्शन Discretion का आता है तो आप इसके ऊपर क्लिक करेंगे और आप अपने साइट के बारे में 500 शब्दों के अंदर जानकारी लिखेंगे।

ध्यान रहे Discretion में टाइटल भी आना चाहिए एवं आपके site से जुड़ी keywords होने चाहिए ये सर्च इंजन में रैंकिंग में काफी मदद करते हैं और गूगल आपके डिस्क्रिप्शन से ये समझ पाता है कि आपका साइट किस टॉपिक पर है।

एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि अगर आप हिंदी में ब्लॉग लिखते हैं तो भी कीवर्ड इंग्लिश में ही डालें।

Blog language

Discretion के बाद Blog language का ऑप्शन है तो आप इसके ऊपर क्लिक करके आप अपना ब्लॉग किस भाषा में लिखते हैं उसको यहां पर चुनना है।

आप जिस भाषा में अपना ब्लॉग लिखते हैं उसी भाषा को यहां पर चुने जब आप blog language के ऊपर क्लिक करेंगे तो ब्लॉगर जितने भी भाषाओं को सपोर्ट करता है उन सभी भाषाओं का लिस्ट यहां पर दिखाई देगा।

अगर आपका ब्लॉग किसी और भाषा में हैं और वो भाषा इस लिस्ट में नहीं है और आप उस भाषा में ब्लॉग लिखते हैं तो फिर आगे चलकर आपको गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल मिलना मुश्किल हो जाएगा।

Adult content

blog language चुन लेने के बाद नीचे adult content का ऑप्शन मिलेगा तो अगर आपके ब्लॉग में एडल्ट कंटेंट हैं तो फिर इसके सामने एक छोटा सा बटन है उसके ऊपर क्लिक करके इसे इनेबल कर दें।

Google analytics property ID

adult content को इनेबल करने के बाद नीचे Google analytics property ID का ऑप्शन मिलेगा आप इसके ऊपर क्लिक करेंगे एवं अपना गूगल एनालिटिक्स का आईडी डाल के save के ऊपर क्लिक कर देंगे।

अगर आपने अभी तक अपना Google analytics account नहीं बनाया है आपके पास ID नहीं है तो फिर इसके लिए यहां पर एक गाइड है blog ko google analytics se connect kaise kare आप इस पोस्ट को पढ़कर अपना गूगल एनालिटिक्स अकाउंट बना ले वहीं पर आपको ID मिल जाएगा।

Favicon

अब नीचे आपको favicon का ऑप्शन मिलेगा favicon वो आइकन होता है जब कोई हमारे ब्लॉग या blog pages को सर्च इंजन में देखता है तो यूआरएल के पहले एक छोटा सा आइकन दिखता है वही favicon होता है।

blog favicon या logo हम पहले से डिजाइन करके रखते हैं क्योंकि ये हमारे ब्लॉग का पहचान होता है और फिर इसे सेटिंग्स में आकर logo या favicon के रूप में अपलोड करते हैं।

favicon के ऊपर क्लिक करते ही यह एक दूसरे पेज में ले जाएगा फिर वहां पर choose file पर क्लिक करके अपने मोबाइल या कंप्यूटर में पहले से रखे गए favicon को यहां पर अपलोड करेंगे और फिर नीचे Save के ऊपर क्लिक कर देंगे।

Privacy

favicon के नीचे privacy का ऑप्शन मिलेगा और प्राइवेसी के नीचे लिखा रहेगा visible to search engine और इसके सामने एक बटन है उसके ऊपर क्लिक करके इसे इनेबल करना होगा।

वैसे तो यह बटन डिफ़ॉल्ट रूप से इनेबल ही रहता है लेकिन अगर यह बंद है तो फिर आप इसे क्लिक करके enable जरूर करें।

Publishing

privacy के बाद नीचे publishing का ऑप्शन रहेगा और यहां पर आपके ब्लॉग का एड्रेस दिखेगा अगर आप अपने ब्लॉगर में custom domain ऐड नहीं किए हैं तो यहीं से कस्टम डोमेन को ऐड कर पाएंगे।

custom domain एड करने के बाद नीचे redirect domain के सामने छोटा बटन को enable जरूर करें नहीं तो फिर आपका blogspot domain कस्टम डोमेन पर रीडायरेक्ट नहीं हो पाएगा।

HTTPS

अब अगला ऑप्शन HTTPS का है और नीचे HTTPS availability और redirect के सामने वाला दोनों बटन enable होना चाहिए वैसे यह डिफ़ॉल्ट रूप से इनेबल होता है।

इससे आपको blogger में SSL certificate फ्री में मिलता है जो आपके ब्लॉग को सिक्योर बनाता है इसलिए अगर इनके सामने का बटन बंद है तो इसे चालू जरूर करें।

Permissions

अब नीचे Permissions का ऑप्शन आता है और इसमे blog के authors की जानकारी होती है इसमें हमें कुछ भी नहीं करना है इसे वैसे ही छोड़ देना है अब इसके नीचे वाला ऑप्शन को देखते हैं।

Posts

Permissions के बाद नीचे Posts का ऑप्शन आता है आप इसके नीचे Max posts shown on main page पर क्लिक करके पोस्ट की संख्या डाल सकते हैं यानी आपके ब्लॉग के होमपेज पर कितना पोस्ट आप देखना चाहते हैं।

Image Lightbox

Image Lightbox के सामने एक छोटा सा बटन है अगर आप उस पर क्लिक करके इसे इनेबल कर देते हैं तो फिर आपका ब्लॉग पोस्ट पर जो भी आयेगा उसके सामने कोई भी इमेज आएगा और वह उसके ऊपर क्लिक करेगा तो वह इमेज ओपन होकर उसके मोबाइल या कंप्यूटर में सामने आ जाया करेगा।

तो Image Lightbox वाले ऑप्शन को हमें enable ही रखना चाहिए इससे आपके रिडर को आसानी होती है वो आपके द्वारा डाला गया इमेज को ओपन करके सही से देख पाते हैं।

Comments

अब अगला ऑप्शन आता है comments का आप इसके नीचे comment location पर क्लिक करके embedded को सेलेक्ट करके सेव कर देंगे।

और फिर नीचे who can comment पर क्लिक करके ये चुनेंगे कि आपके ब्लॉग पेजेस पर कौन-कौन कमेंट कर सकते हैं यहां पर आपको तीन ऑप्शन मिलेगा आप इसमें बीच वाला ऑप्शन users with Google accounts को चुन सकते हैं।

इससे जो व्यक्ति अपने ब्राउज़र में अपना गूगल अकाउंट से साइन इन किया रहेगा वही कमेंट कर पाएगा और आप कॉमेंट स्पैमिंग से बचे रहेंगे।

फिर नीचे comment from message में आप कोई मैसेज डाल सकते हैं उदाहरण के लिए thanks for feedback लिख सकते हैं तो जो भी कमेंट करेगा उसके सामने यह मैसेज आएगा।

Formatting

comments के बाद नीचे Formatting का ऑप्शन आता है यहां पर आप निचे time zone पे क्लिक करके भारत का टाइम जोन (GMT+05:30) India standard time- Kolkata को चुनेंगे।

फिर नीचे death header format पर क्लिक करके आपके ब्लॉग में डेट किस फॉर्मेट में दिखे वो चुनेंगे और फिर सेव कर लेंगे।

Meta tags

अब अगला ऑप्शन meta tags का आता है और ये हमारे ब्लॉग को search engine में rank कराने के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है इसलिए इसे जरूर इनेबल करें।

इसके लिए enable search description के सामने बटन पर क्लिक करके इसे इनेबल करें और search description मे अपने ब्लॉग से जूड़ी वो सभी की वर्ड डालें जो आपके साइट को rank कराने में मदद करेगा।

Crawlers Custom Indexing

Crawlers Custom Indexing को भी इनेबल करना बहुत जरूरी होता है इसके लिए निचे enable custom robots.txt के सामने बटन पर क्लिक करके इनेबल करें एवं नीचे custom robots पर क्लिक करके अपने साइट का xml site map डाले और फिर सेव करें।

इसके लिए सबसे पहले आपको एक्सएमएल साइटमैप जनरेट करना होगा अगर आप साइटमैप बनाना नहीं जानते हैं तो इसके लिए यहां एक गाइड है blogger sitemap kaise banaye आप इस पोस्ट को पढ़ें एवं अपने ब्लॉग के लिए साइटमैप क्रिएट करें फिर यहां पर डालकर सेव करें।

enable custom robots header tag

xml sitemap डालने के बाद इसके बाकी के ऑप्शन को इनेबल या डीजेबल करेंगे उसके लिए नीचे enable custom robots header tag के सामने बटन के ऊपर क्लिक करके enable करेंगे।

Home page tags

फिर नीचे Home page tags के ऊपर क्लिक करेंगे और आपके सामने एक पॉपअप आएगा इसमें बहुत सारे ऑप्शन होंगे लेकिन आप को सबसे ऊपर वाला ऑप्शन all को enable करना है और नीचे की तरफ noodp को इनेबल करना है बाकी सभी बटन डीजेबल रहेंगे फिर सेव के ऊपर क्लिक करके इसे सेव कर लेंगे। (नीचे चित्र देखें)

blogger settings in hindi

archive and search page tags

अब home page tags के निचे archive and search page tags पर क्लिक करेंगे तो फिर से एक पॉपअप आएगा और इसमें भी बहुत सारे ऑप्शन दिखेंगे तो यहां पर आपको सबसे ऊपर से दूसरा नंबर noindex को इनेबल करना है और फिर नीचे noodp को enable करके सेव कर लेना है। (नीचे चित्र देखें)

blogger settings in hindi

post and page tags

अब archive and search page tags के बाद इसके नीचे post and page tags के ऊपर क्लिक करना है और यहां पर भी एक पॉपअप आएगा तो इसमें सबसे ऊपर all को enable करना है फिर नीचे की तरफ noodp को इनेबल करके सेव कर लेना है। (नीचे चित्र देखें)

blog seo

Google Search Console

अब post and page tags के निचे Google Search Console का ऑप्शन मिलेगा आप इस पर जैसे क्लिक करेंगे वैसे यह गूगल सर्च कंसोल वाले पेज पर ले कर चला जाएगा फिर वहां पर आप अपने साइट को वेरीफाइड करेंगे।

अगर आपको अपने साइट को गूगल सर्च कंसोल में वेरीफाइड करने का प्रोसेस नहीं पता है तो इसके लिए यहां एक गाइड है blog ko google par kaise laye इस पोस्ट को पढ़कर आप अपने ब्लॉग को गूगल सर्च काउंसिल में वेरीफाइड करिए।

Monetization

अब अगला ऑप्शन मोनेटाइजेशन का आता है इसे आप तब इनेबल करेंगे जब आपको गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल मिल जाए फिर आप अपने ऐडसेंस अकाउंट से कुछ कोड को यहां पर पेस्ट करके सेव करेंगे।

तो दोस्तों हमने अपने ब्लॉग का वो सभी जरूरी सेटिंग्स को इनेबल या डीजेबल कर लिया जो हमारे काम का था और जो काम का नहीं था उसके बारे में हमने बात नहीं किया।

हम हमेशा यही कोशिश करते हैं कि हमारे साइट पर आने वाले रीडर्स को संपूर्ण जानकारी मिले और इसके लिए हम लगातार कोशिश करते हैं, साथ ही पोस्ट को समय-समय पर अपडेट भी करते हैं।

हमें उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट Blogger Settings In Hindi काफी पसंद आया होगा और इसे पढ़कर आपके सवाल blogger blog ki basic settings kaise kare hindi का जवाब मिल गया होगा।

अगर आपके पास इस पोस्ट Blogger Settings In Hindi से संबंधित किसी भी तरह का सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट जरूर करें।

7 thoughts on “ब्लॉग की सभी जरुरी सेटिंग्स करना सिखें – Blogger Settings In Hindi”

  1. Myself prameshwar from Rajasthan, mera blogger pr ek blog h “www.hindisikhen.com” Me mobile se post dalta hu, jb m us post ko laptop ya pc me dekhta hu to us post ka view alg ho jata ha, pkz guide me.
    My mail :-

    Reply
    • आप पोस्ट लिखते समय दाहिने साइड में Parmalink के ऊपर क्लिक करके custom Parmalink के छोटे डब्बे पर टिक मार्क करें और फिर नीचे कस्टम परमालिंक डालें

      Reply
    • आप Monetization बंद कर सकते हैं जब आपका ब्लॉग Monetize हो जाए फिर आप इसे चालू कर सकते हैं।

      Reply

Leave a Comment