Blogger Blog Me SEO Kaise Kare हिंदी में सीखें

क्या आप जानना चाहते हैं कि blogger seo kaise kare क्योंकि wordpress में एसइओ करना आसान होता है वहां पर हमें इससे संबंधित कई सारे plugins मिल जाते हैं जो हमारे ब्लॉग या ब्लॉग पोस्ट का seo करने में हमारी सहायता करते हैं।

लेकिन blogger में हमारे पास कोई plugins नहीं होते हैं जो हमारे blogger seo करने में हमारी सहायता करें हमें यहां पर खुद से ही अपने हिसाब से अपना ब्लॉग को बनाना या पोस्ट लिखना होता है।

blogger seo kaise kare

blogger seo kaise kare ये काम हमारा ब्लॉग बनाने के साथ ही शुरू हो जाता है जब हम अपना ब्लॉग क्रिएट करते हैं तो ब्लॉगर के सेटिंग्स में टाइटल, टैग, मेटा डिस्क्रिप्शन इत्यादि अपने ब्लॉग के विषय के अनुसार डालते हैं।

और फिर अपने blog का sitemap बनाते हैं एवं इसे Google search console में submit करते हैं और ये सभी काम पूरा करने के बाद हम अपने ब्लॉग पर पेज बनाते हैं और उसके बाद फिर अपने नए ब्लॉग पर पोस्ट लिखना शुरू करते हैं।

तो हम यहां पर अपने ब्लॉग बनाने के साथ ही जो seo करने का प्रोसेस शुरू होता है और ब्लॉग पोस्ट लिखने तक का एसइओ का पूरा प्रोसेस जानेंगे।

blogger seo kaise kare

अगर आपका ब्लॉग Blogger पर है और आपने ब्लॉग बनाते समय इसके सेटिंग्स में टाइटल, टैग एवं मेटा डिस्क्रिप्शन को अपने blog के विषय के अनुसार नहीं डाला था तो यहां पर हम इसी प्रोसेस को सबसे पहले पूरा करेंगे।

इसके लिए आप अपने blogger के डैशबोर्ड में लॉगिन करें और फिर बाएं साइड में नीचे सेटिंग्स के ऊपर क्लिक करें, अब आपके सामने दाहिने साइड में आपके ब्लॉग के सभी सेटिंग्स नजर आने लगेंगे।

Blog Title

अब यहां पर सबसे ऊपर आपके ब्लॉग का टाइटल दिखेगा जब आप अपना blog create करते हैं तभी इस टाइटल को बनाते हैं और वही यहां पर दिखाई देगा अगर आप इसको चेंज करना चाहे तो इसके ऊपर क्लिक करके चेंज कर सकते हैं।

Blogger Description Kaise Likhe

Title के नीचे आपको अपने ब्लॉग का Discription डालना होगा आप जैसे डिस्क्रिप्शन के ऊपर क्लिक करेंगे वैसे आपके सामने एक पॉप अप आएगा अब यहां पर आप 500 शब्दों के अंदर ही अपना blog description लिखेंगे।

डिस्क्रिप्शन में आप अपने ब्लॉग से संबंधित बातें लिखेंगे यानी आपके ब्लॉग का विषय क्या है आप अपने इस ब्लॉग पर किस तरीके का सामग्री डालना चाहते हैं ध्यान रहे आपके ब्लॉग से जुड़ी कीवर्ड आपके इस डिस्क्रिप्शन में मेंशन होने चाहिए।

उदाहरण के लिए अगर आपका ब्लॉग ब्लॉगिंग से संबंधित है तो आप डिस्क्रिप्शन में निम्नलिखित कीवर्ड को मेंशन कर सकते हैं blog, blogging, blog seo, earn money from blogging इत्यादि।

लेकिन आपको इन कीवर्ड को सीधा-सीधा नहीं लिखना है बल्कि आप अपने डिस्क्रिप्शन में अपने ब्लॉग और ब्लॉग के विषय के बारे में लिखते जाएंगे और उसी के बीच बीच में इन कीवर्ड को मेंशन करते जाएंगे।

Blog Language

description के नीचे blog language को हमें चुनना है इसके लिए ब्लॉग लैंग्वेज के ऊपर क्लिक करके आपके ब्लॉग का जो भी भाषा है उसे चुनेंगे आप अपने ब्लॉग पर किस भाषा में आर्टिकल लिखना चाहते हैं उस भाषा को चुन के नीचे save के ऊपर क्लिक करेंगे, और अब हम blogger seo kaise kare का आगे का सेटिंग्स निचे देखते है।

Google Analytics Property ID

हमें अपना New Blog को Google Analytics से कनेक्ट करना होता है वैसे इससे SEO में कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन इसके द्वारा हम अपने ब्लॉग का परफॉर्मेंस को देख पाते हैं और उसी के अनुसार काम करके हम अपने ब्लॉग को तेजी से आगे बढ़ा सकते हैं।

आप google analytics के ऊपर क्लिक करके यहां पर अपना एनालिटिक आईडी डाल के नीचे सेव के ऊपर क्लिक कर देंगे अगर आपको नहीं पता है कि गूगल एनालिटिक्स अकाउंट कैसे बनाएं तो यहां एक गाइड है। Blog Ko Google Analytics Se Connect Kaise Kare

Blog Favicon

Google analytics के नीचे Favicon का ऑप्शन है आप इसके ऊपर क्लिक करेंगे और आप अपने ब्लॉग के लिए जो लोगो बनाए थे उसको यहां पर choose file के ऊपर क्लिक करके अपलोड कर सकते हैं।

जब कोई व्यक्ति सर्च इंजन में कोई कीवर्ड को सर्च करता है और वहां पर आपके पोस्ट दिखाई देते हैं तो उसी पोस्ट टाइटल के पहले ये Favicon सर्च इंजन में दिखता है।

Blog Privacy

Favicon के नीचे privacy का ऑप्शन मिलेगा इसके दाहिने साइड में छोटे से बटन के ऊपर क्लिक करके ऑन कर देंगे तभी गूगल आपके इस ब्लॉग को सर्च इंजन में रैंक करेगा।

अगर आप इस privacy के बटन को ऑन नहीं करते हैं तो इसके मतलब आप google को ये बोल रहे हैं कि वो आपके इस ब्लॉग को सर्च इंजन में न दिखाए इसलिए आपको इसे ऑन कर लेना है।

ये भी पढ़ें
Blog Post को Google में fast index कैसे करें
Best Blogging Tips Hindi – Blogging में सफलता का मंत्र

Publishing

privacy के नीचे publishing का ऑप्शन है अगर आप अपने ब्लॉगर में ब्लॉगर का ही डोमेन यानी blogsport.com को यूज कर रहे हैं तो इस ऑप्शन को छेड़ने की जरूरत नहीं है।

और अगर आप अपने इस ब्लॉगर में एक कस्टम डोमेन खरीद के ऐड करना चाहते हैं तब आप इसी ऑप्शन के जरिए उस डोमेन को ऐड कर पाएंगे।

Blog HTTPS

publishing के नीचे HTTPS का ऑप्शन मिलेगा ये हमारे ब्लॉग के सुरक्षा के लिए होता है वैसे ये डिफ़ॉल्ट रूप से ब्लॉगर में ऑन रहता है लेकिन अगर ऑन नहीं है तो https availability और https redirect के सामने वाले दोनों बटन पर क्लिक करके ऑन कर लें।

Permissions

https के निचे Permissions का ऑप्शन मिलेगा ये ऑप्शन उनके लिए है जो अपने ब्लॉग में किसी और को एडमिन बनाते हैं या फिर कोई कंटेंट राइटर रखते हैं और उसे इस ब्लॉग पर पोस्ट लिखने का एक्सेस देते हैं।

अगर आप भी अपने अलावा किसी और को इस ब्लॉग का एडमिन या कंटेंट राइटर को यहां पर पोस्ट डालने का एक्सेस देना चाहते हैं तो इस सेटिंग्स के जरिए आप सेट कर सकते हैं।

Blog Post

Permissions के निचे post का ऑप्शन मिलेगा यहां पर आप नीचे Max post show on main page के ऊपर क्लिक करके ये सेट कर सकते हैं कि आप अपने ब्लॉग होम पेज में ज्यादा से ज्यादा कितना पोस्ट को शो कराना चाहते हैं।

यानी जब कोई आपके ब्लॉग पर होम पेज पर जाए तो वहां पर उसे कितना पोस्ट देखें इसके लिए आप Max post show on main page के ऊपर क्लिक करेंगे और फिर नंबर डाल देंगे हम आपको सजेस्ट करते हैं कि आप ज्यादा से ज्यादा 5 से 7 पोस्ट ही होम पेज पर शो करें।

अब नीचे के तरफ आपको अगला ऑप्शन मिलेगा image lightbox का और इसके सामने बटन के ऊपर क्लिक करके आप को ऑन कर लेना है इसको ऑन करने से फायदा ये होगा कि जब कोई आपके पोस्ट पर आएगा और किसी भी इमेज के ऊपर क्लिक किया करेगा तो वो इमेज ओपन होकर स्किन पर सामने आ जाया करेगा।

अगर आप इस बटन को ऑन नहीं करेंगे और कोई आपके पोस्ट में किसी भी इमेज पर क्लिक किया करेगा तो वो इमेज के यूआरएल में ओपन हुआ करेगा फिर वो आदमी जब बैक बटन पर क्लिक किया करेगा तो फिर वापस पोस्ट पर आ पायेगा।

Blog Comment Location

post के निचे Comment Location का ऑप्शन मिलेगा ये ऑप्शन आपको अपने ब्लॉग पोस्ट में कमेंट सेक्शन को ऑप्टिमाइज करने के लिए होता है।

जब आप comment location के ऊपर क्लिक करेंगे तो एक पॉपअप आएगा और इसमें चार ऑप्शन रहेगा embedded, full page, popup window, hide इनमें डिफ़ॉल्ट रूप से embedded सेलेक्ट रहता है।

आप इन चारों ऑप्शन में से कोई सा भी एक अपने अनुसार चुनने के बाद नीचे save के ऊपर क्लिक कर देंगे।

अगर आप embedded को चुनते हैं तो जब कोई आपके ब्लॉग पोस्ट पर कमेंट करने के लिए जाएगा तो जितने भी कॉमेंट होंगे उसके लास्ट में जाने के बाद उनको कॉमेंट करने का ऑप्शन मिलेगा।

और जब आप full page को चुनते हैं तो कोई बंदा आपके पोस्ट पर कमेंट करने के लिए जाएगा तो कॉमेंट करने के लिए वो post a comment पर क्लिक करेगा और फिर एक नया विंडो ओपन होगा फिर उस नये विंडो पर वो कॉमेंट कर पाएगा।

और अगर आप तीसरा ऑप्शन यानी popup window को चुनते हैं तो कोई आपके पोस्ट पर कमेंट करने के लिए post a comment के ऊपर जैसे क्लिक करेगा वैसे उसके सामने एक पॉप अप खुला आएगा और उसी में वो कमेंट कर पाएगा।

और अगर आप चौथा ऑप्शन hide को चुनते हैं तो फिर आपके पोस्ट में कमेंट सेक्शन किसी को भी दिखाई नहीं देगा यानी आपके पोस्ट में कोई कमेंट नहीं कर पाएगा।

अब आपको यहां पर चुनना है कि आप इन चारों में से कौन से फीचर को यूज करना चाहते हैं। comment location के बाद अगला ऑप्शन है who can comment आप इसके ऊपर क्लिक करेंगे।

 क्लिक करते ही आपके सामने एक पॉपअप आएगा और इसमें तीन ऑप्शन रहेंगे anyone, user with google account, only members for this blog इन तीनों ऑप्शन में डिफ़ॉल्ट रूप से anyone पर सेलेक्ट रहता है।

anyone पर सेलेक्ट होने का मतलब है कि आपके पोस्ट में कोई भी कमेंट कर पाएगा, इसमें दूसरा ऑप्शन users with Google account को अगर आप चुनते हैं तो फिर आपके पोस्ट में वही लोग कमेंट कर पाएंगे जिनका गूगल अकाउंट होगा।

और अगर आप तीसरा ऑप्शन only members of this blog को चुनते हैं तो फिर आपके ब्लॉग को जिन लोगों ने सब्सक्राइब कर रखा है सिर्फ वही कमेंट कर पाएंगे।

इसमें हम आपको users with Google account को चुनने के लिए सजेस्ट करेंगे आप इन तीनों में जिसे भी चुनना चाहते हैं उसके ऊपर क्लिक करके टिक मार्क करेंगे फिर नीचे save के ऊपर क्लिक कर देंगे।

comment ऑप्शन में हमने comment location और who can comment के ऑप्शन को समझ लिया अब हम इसमें तीसरा ऑप्शन comment moderation को समझेंगे इसके लिए इसके ऊपर क्लिक करेंगे।

comment moderation के ऊपर क्लिक करते ही एक पॉप अप आएगा और इसमें तीन ऑप्शन रहेगा always, sometimes, never आप इनमें से कोई सा भी एक को चुनने के बाद नीचे save के ऊपर क्लिक कर देंगे।

अगर आप always को चुनते हैं तो आपके पोस्ट में कोई भी कमेंट आता है तो उसे आप अप्रूवल देंगे तभी वो कॉमेंट लाइव हो पाएगा, और अगर आप इसमें दूसरा ऑप्शन sometimes को चुनते हैं तो जिस कॉमेंट को आप एक बार अप्रूवल दे चुके हैं वही बंदा दोबारा कमेंट करेगा तो फिर वह अपने आप लाइव हो जाया करेगा।

और अगर आप तीसरा ऑप्शन never को चुनते हैं तो फिर कॉमेंट आपके पास मॉडरेशन के लिए नहीं रुकेगा कोई भी कमेंट करेगा और वो तुरंत ही लाइव हो जाया करेगा तो हम आपको इसमें always को चुनने के लिए सजेस्ट करेंगे।

क्योंकि कई बार लोग हमारे पोस्ट में स्पैम कमेंट डाल देते हैं तो अगर आप always को चुने हैं तो वो कॉमेंट सबसे पहले आपके पास आएगा और आप उसे चेक करने के बाद लाइव होने के पहले ही डिलीट कर पाएंगे।

अब अगला ऑप्शन email moderation request to का है आप इसके ऊपर क्लिक करेंगे और एक ईमेल आईडी डाल के नीचे save के ऊपर क्लिक कर देंगे तो इससे फायदा ये होगा कि कोई भी कॉमेंट आपके साइट पर आएगा तो उसका इंफॉर्मेशन इस ईमेल पर मिल जाया करेगा।

और इसके अगला ऑप्शन है reader comment captcha का तो ये डिफ़ॉल्ट रूप से ऑन ही होता है इसको ऑन ही रहने दे और फिर उसका अगला ऑप्शन है comment from message.

comment from message के ऊपर क्लिक करके एक मैसेज टाइप करें वो मैसेज जब कोई आपके पोस्ट में कमेंट करने के लिए जाएगा तो कमेंट बॉक्स के नीचे वो मैसेज उसे दिखेगा।

उदाहरण के लिए आप इस मैसेज को टाइप कर सकते हैं “कृपया कमेंट में कोई लिंक ना डालें” और फिर नीचे save के ऊपर क्लिक करके सेव कर देंगे।

ये भी पढ़ें
Guest Post Kaise Kare जानें सही तरीका
High Quality Backlink कैसे बनाएं – हिंदी में

Blog Meta Tags

हमने कॉमेंट्स के सभी ऑप्शन को समझ लिया अब हम नीचे मेटा टैक्स के ऑप्शन को समझेंगे meta tags के निचे enable search description के सामने बटन के ऊपर क्लिक करके इसे इनेबल करें।

enable करने के बाद आप चाहे तो उसके नीचे search description पर क्लिक करके आप यहां पर 150 वर्ड तक के डिस्क्रिप्शन लिख सकते हैं।

जब हम enable search description के सामने वाले बटन पर क्लिक करके इनेबल कर देते हैं और कोई सा भी पोस्ट अपने ब्लॉग पर लिखते हैं तो उस पोस्ट में दाहिने साइड में हमें डिस्क्रिप्शन लिखने का भी ऑप्शन मिल जाता है।

Crawlers and indexing

meta tags के बाद Crawlers and indexing का ऑप्शन हमें मिलता है आप enable custom robots.txt के सामने बटन के ऊपर क्लिक करके इसे इनेबल करें और फिर नीचे custom robots.txt के ऊपर क्लिक करके अपने ब्लॉग का sitemap पेस्ट करने के बाद नीचे save के ऊपर क्लिक करें।

अब आप सोच रहे होंगे कि ये sitemap होता क्या है कहां से लाकर यहां पर पेस्ट करना है तो इसके लिए यहां एक गाइड है। Blogger Sitemap Kaise Banaye इस पोस्ट में वर्डप्रेस और ब्लागर दोनों के लिए sitemap जनरेट करना बताया गया है।

अब नीचे enable custom robots header tags के सामने बटन के ऊपर क्लिक करके इसे इनेबल करना है और फिर उसके नीचे home page tags के ऊपर क्लिक करना है आपके सामने एक पॉपअप आएगा इस पॉपअप में बहुत सारे ऑप्शन होंगे जिसमें all और noodp को ऑन करना है और नीचे save के ऊपर क्लिक कर देना है (नीचे चित्र देखें)

crawlers and indexing
crawlers and indexing

home page tags के बाद नीचे archive and search page tags के ऊपर क्लिक करना है फिर से एक पॉपअप आएगा अब इसमें आपको ऊपर से दूसरा नंबर noindex और ऊपर से ही सातवां नंबर noodp को ऑन कर के नीचे सेव के ऊपर क्लिक करना है। (नीचे चित्र देखें)

crawlers and indexing
crawlers and indexing

अब अगला ऑप्शन post and page tags के ऊपर क्लिक करना है और ऊपर से पहला ऑप्शन all फिर ऊपर से ही सातवा ऑप्शन noodp को ऑन कर के नीचे save के ऊपर क्लिक करके सेव कर लेना है।

अब अगला ऑप्शन है Google search console का तो आप इसके ऊपर जैसा क्लिक करेंगे वैसे आपके सामने एक नया टैब ओपन हो जाएगा और यहां पर आप अपने ब्लॉग के यूआरएल को डालकर गूगल सर्च कंसोल में वेरीफाइड करेंगे।

अगर आपको google search console में अपने ब्लॉग को वेरीफाइड करने का प्रोसेस नहीं पता है तो यहां एक गाइड है। Blog Ko Google Par Kaise Laye

हमने ऊपर अपने ब्लॉग के सेटिंग्स को जितना भी एनेबल एवं डीजेबल किया है वो सभी हमारे ब्लॉग के SEO में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

तो हमने यहां पर blogger seo kaise kare ये सीख लिया अब हमें जरूरत होती है अपने ब्लॉग पर seo-friendly post लिखने की तो हमने इस विषय पर भी एक संपूर्ण आर्टिकल लिखा है आप इस पोस्ट को पढ़ें और एक क्वालिटी आर्टिकल लिखना सीखे।

और अंत में

ब्लॉगिंग के क्षेत्र में सफलता पाना है इतना आसान काम भी नहीं है लेकिन इस दुनिया में कोई भी काम नामुमकिन भी नहीं है यहां पर मेहनत थोड़ा ज्यादा लगता है लेकिन अगर आप निरंतर मेहनत करेंगे तो जरुर सफल होंगे।

हमने यहां पर सीखा blogger seo kaise kare और हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट में बताए गए बातों को आप फॉलो करेंगे तो आपके ब्लॉगर की सेटिंग्स seo-friendly बनेगी और आपके ब्लॉग को सर्च इंजन में लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

अगर आप इस पोस्ट blogger seo kaise kare के बाड़े मे कुछ कहना है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर पहुंचे हम आपके सवालों के जवाब देने में प्रसन्नता महसूस करेंगे।

8 thoughts on “Blogger Blog Me SEO Kaise Kare हिंदी में सीखें”

  1. नमस्कार सर मैं लेखन मित्र वैभव
    मैंने अभी कुछ ही समय पूर्व ब्लोगर पर फ्री ब्लॉगिग करना शुरू किया है।
    मेरे ब्लॉग्स का नाम है lekhanmitravaibhav
    आपकी द्वारा दी गई जानकारियां बहुत महत्वपूर्ण है।
    हमे इनसे बहुत सहायता मिल रही है।
    हमारी सहायता करने के लिए आपका धन्यवाद

    Reply
  2. नमस्कार सर मैं लेखन मित्र वैभव
    मैंने अभी कुछ ही समय पूर्व ब्लोगर पर फ्री ब्लॉगिग करना शुरू किया है।
    मेरे ब्लॉग्स का नाम है lekhanmitravaibhav.
    मेरे ब्लॉग पर हिंदी के सुंदर अक्षर लेखन से सम्बंधित ब्लॉग्स मैं लिख रहा हूँ। और स्वयं ब्लॉगिंग करना भी धीरे -धीरे सीख रहा हूँ।
    आपके द्वारा दी गई जानकारियां बहुत महत्वपूर्ण है।
    हमे इनसे बहुत सहायता मिल रही है।
    हमारी सहायता करने के लिए आपका धन्यवाद

    Reply
  3. हेलो सर में ब्लॉगिंग करना चाहता हू प्लीज़ बताय कैसे शुरू करुँ

    Reply
    • इसी ब्लॉग पर आर्टिकल है जिसका टाइटल है blogging कैसे शुरू करें
      आप उस आर्टिकल को पढ़िए।

      Reply

Leave a Comment