Blogging क्या है ब्लॉगिंग कैसे करें?

इस हिंदी एपिसोड में हम सीखेंगे की Blogging क्या है और ब्लॉगिंग कैसे किया जाता है इससे पैसे कैसे मिलते हैं। ब्लॉगिंग से जुड़ी आपके सभी सवाल इस पोस्ट में मिलने वाले हैं।

Blogging क्या है?

हम अपने ज्ञान को लोगों के सामने कई तरह से रखते हैं कुछ लोग वीडियो बनाकर अपने ज्ञान को लोगों में बांटते हैं, कुछ लोग ब्लॉगिंग के द्वारा लिख कर लोगों को सिखाते हैं, एवं कुछ लोग कक्षा में ब्लैक बोर्ड पर लिखकर या मुंह से बोल कर अपने स्टूडेंट को पढ़ाते हैं।

आपके पास जो भी ज्ञान है आप जिस भी क्षेत्र में जानकारी रखते हैं उस जानकारी या ज्ञान को इंटरनेट पर लिखकर लोगों को सिखाना ही Blogging कहा जाता है, ब्लॉग का अर्थ ही लिखना होता है।

उदाहरण के लिए आपने Digital Marketing का Course क्या हुआ है और आप चाहते हैं कि इस ज्ञान को और भी लोगों तक पहुंचाएं तो इसके लिए आप चाहे तो वीडियो बनाकर लोगों को सिखा सकते हैं या आप चाहें तो Blogging में इंटरनेट पर लेख या पोस्ट लिख कर भी लोगों को सिखा सकते हैं।

इंटरनेट पर अपने ज्ञान को लिखकर हजारों लाखों या करोड़ों लोगों तक पहुंचाना ही Blogging कहा जाता है। ब्लॉगिंग के लिए हम कोई सा भी एक प्लेटफार्म चुनते हैं जैसे Blogger, WordPress, Tumblr, Medium इत्यादि।

Blogging क्या है का अर्थ

जब आप एक Blog बनाते हैं और अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखते हैं तो इस पेसा को ब्लॉगिंग कहा जाता है और ब्लॉग लिखने वाले को Blogger कहा जाता है एवं उस ब्लॉग को पढ़ने वाले को विजिटर या रीडर कहा जाता है साथ ही इसे हम ट्रैफिक भी बोलते हैं।

ब्लॉग दो तरह के होते हैं एक वो जिस पर लोग अपनी भावनाओं, विचारों एवं जीवन के कथाओं को लिखते हैं एवं दूसरा वो जिस पर लोग दूसरे लोगों के जरूरत से जुड़ी जानकारी डालकर पैसे कमाते हैं लेकिन ये दोनों ब्लॉग बनाने का प्रोसेस एक ही होता है।

ब्लॉगिंग करने के लिए पढ़ाई कितनी होनी चाहिए?

अगर आप सिर्फ आठवीं पास हैं तो भी हिंदी ब्लॉगिंग कर सकते हैं हिंदी ब्लॉगिंग के लिए बहुत ज्यादा पढ़ाई की जरूरत नहीं होती है सिर्फ थोड़ा इंग्लिश का बेसिक ज्ञान होना चाहिए।

लेकिन अगर आप इंग्लिश ब्लॉगिंग करना चाहते हैं तो फिर इसके लिए आपके पास इंग्लिश का अच्छा खासा ज्ञान होना चाहिए क्योंकि हिंदी ब्लॉग हो या इंग्लिश ये दोनों ब्लॉग बनाने का प्रोसेस एक ही होता है लेकिन इंग्लिश ब्लॉगिंग में आपको इंग्लिश में पोस्ट लिखना होता है।

भारत में हिंदी ब्लॉगिंग का तेजी से विस्तार हो रहा है पिछले कुछ साल में हिंदी ब्लॉगर की संख्या बहुत तेजी से बढ़ी है हमने भारत में टॉप 25 हिंदी ब्लॉगर्स का लिस्ट बनाया है इसे आप यहां से देख सकते हैं।

ये भी पढ़ें
Website के लिये Business Email ID कैसे बनायें

Google Analytics 0 Bounce Rate क्या है कैसे ठीक करें

Blogging कैसे करें?

अगर आप Blogging करना चाहते हैं अपने ज्ञान को ब्लॉगिंग के माध्यम से करोड़ों लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको एक प्लेटफार्म चुनना होगा, और उस प्लेटफार्म पर अपना एक Blog बनाना होगा और फिर अपने ब्लॉग पर अपने ज्ञान को पोस्ट या आर्टिकल के रूप में लिखते जाना है।

आजकल ज्यादातर लोग दो प्लेटफार्म को Blogging के लिए चुनते हैं पहला Blogger और दूसरा WordPress इन्हीं दोनों प्लेटफार्म पर ज्यादातर ब्लॉग बनाए जा रहे हैं।

अगर आप Blogger को चुनते हैं तो सबसे पहले आप ब्लॉगर पर अपना एक Blog बनाएंगे और फिर आप अपने ज्ञान को पोस्ट के रूप में लिखना शुरू करेंगे, ठीक ऐसे ही अगर आप WordPress को भी चुन सकते हैं और इस पर भी ब्लॉग बनाकर अपनी जानकारी लोगों के बीच में साझा कर सकते हैं।

अगर आप ये तय नहीं कर पा रहे हैं कि अपना Blog ब्लॉगर पर बनाए या वर्डप्रेस पर तो इसके लिए यहां एक गाइड है। Blogger vs WordPress इस गाइड को पढ़ें और ब्लॉगिंग के लिए प्लेटफार्म का चुनाव करें।

शुरुआती के लिए ब्लॉगिंग

अगर आप ब्लॉगिंग के क्षेत्र में नए हैं और आप अभी अभी ब्लॉगिंग का शुरुआत करना चाहते हैं तो आप इसके लिए Blogger प्लेटफार्म को चुन सकते हैं क्योंकि ये फ्री होता है और आप इस प्लेटफार्म पर ब्लॉगिंग करना फ्री में सीख सकते हैं।

Blogger पर बना हुआ Blog को आप आगे चलकर कभी भी WordPress पर Transfer कर सकते हैं लेकिन वर्डप्रेस फ्री नहीं होता है यहां पर आपको कुछ इन्वेस्ट करना होगा।

Blogging से पैसे कैसे मिलते है?

यहां तक हमने Blogging क्या है और कैसे करें इसके बारे में जानकारी ले लिया अब आपके मन में ये सवाल जरूर उठ रहा होगा कि इससे पैसे कैसे मिलते हैं।

Blogging से पैसे कैसे मिलते है इसको हम एक उदाहरण के जरिए समझेंगे, माना कि आपने एक स्कूल या पाठशाला खोल रखा है और उस पाठशाला में बहुत सारे बच्चे आ रहे हैं और आप उन्हें पढा रहे हैं।

आप अपने पाठशाला में बच्चों को तो फ्री में पढ़ाते हैं लेकिन उसी पाठशाला के अंदर आप कई सारे दुकान भी खोल रखे हैं और जो भी बच्चे आपके पास पढ़ने आते हैं वो उस दुकान से स्कूल से संबंधित सामग्री खरीदते हैं और वही आपका इनकम है।

ठीक ऐसे ही आप एक Blog बनाते हैं और उस ब्लॉग में अपने ज्ञान को लिखते हैं फिर आप उस पोस्ट के बीच बीच में Adsense या अन्य कंपनियों का Ads लगा देते हैं।

अब जो भी व्यक्ति आपके उस पोस्ट पर जाता है वो उस पोस्ट को पढता है और सीखता है साथ ही पोस्ट के बीच बीच में लगा हुआ एड को भी देखता है तो इससे उन एड कंपनियों के प्रोडक्ट का प्रचार भी होता है।

एड कंपनियां आपको पैसे देती है क्योंकि आप उनके एड को अपने पोस्ट में लगाकर लाखों लोगों तक पहुंचा रहे हैं और ऐसे आप ब्लॉगिंग करके अच्छा खासा पैसे कमा पाते हैं।

Blogging से पैसे कमाने के लिए आपका ब्लॉग पॉपुलर होना चाहिए आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आना चाहिए जब बहुत सारे लोग आपके ब्लॉग पोस्ट को पढेंगे तभी उस पोस्ट में लगा हुआ एड हजारों या फिर लाखों लोगों के सामने जाएगा और तभी कंपनियों के प्रोडक्ट का प्रचार होगा और तभी वो कंपनियां आपको पैसे देंगी।

ब्लॉगिंग में पैसे कमाने में कितना समय लगता है?

पिछले कुछ ही साल में ब्लॉगिंग के क्षेत्र में कंपटीशन काफी तेजी से बढ़ा है और जैसे कि आपको पता है ही जिस क्षेत्र में ज्यादा कंपटीशन होता है वहां पर सफल होने में हमें कुछ ज्यादा ही मेहनत करना होता है।

एक नया ब्लॉग बना कर उससे पैसे कमाने तक का समय कम से कम 6 महीने और ज्यादा से ज्यादा 1 साल तक का समय लग सकता है ये निर्भर करता है आपके काम और मेहनत के ऊपर।

आपके ब्लॉग पर जितना ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक होता है उतना ही ज्यादा से ज्यादा कमाई होती है एक नए Blog पर ट्रैफिक आने में कितना समय लगता है इस विषय पर हमने एक संपूर्ण पोस्ट लिखा है नया Blog पर Traffic कितने दिनों में आता है इस गाइड को यहां से पढ़ें।

Blog कितने तरह के होते हैं?

Blog कई तरह के हो सकते हैं जैसे Micro Niche Blog, Event Blog, Festival Blog, Affiliate Blog, Food Blog इत्यादि, आप अपने अनुसार अपना ब्लॉग बना सकते हैं।

उदाहरण के लिए अगर आप micro niche blog बनाते हैं तो फिर आप अपने ब्लॉग पर सिर्फ एक विषय पर पोस्ट लिखेंगे, वहीं अगर दूसरा उदाहरण ले और आप festival blog बनाते हैं तो आप अपने ब्लॉग पर त्यौहार से संबंधित पोस्ट लिखेंगे, तीसरा उदाहरण में अगर आप food blog बनाते हैं तो आप अपने ब्लॉग पर खाना से संबंधित पोस्ट लिखेंगे।

आप अपने जानकारी के अनुसार अपने Blog का विषय को चुन सकते हैं और उसी विषय पर पोस्ट लिख सकते हैं। बहुत से लोग अपने ब्लॉग में सभी विषयों को कवर करते हैं लेकिन ऐसे ब्लॉग को गूगल ज्यादा महत्व नहीं देता है क्योंकि आप एक ही विषय में एक्सपर्ट हो सकते हैं सभी विषयों में नहीं।

जब आपके ब्लॉग पर कोई यूजर आए तो उसे ऐसा लगना चाहिए कि आप उस विषय में एक्सपर्ट हैं तभी वो आपके ब्लॉग या पोस्ट पर विश्वास करेगा और फिर आपके पोस्ट पर अपना प्रतिक्रिया देगा एवं उसे और दूसरे लोगों में शेयर करेगा।

मोबाइल से Blogging कैसे करें?

शुरुआती में आप मोबाइल से ही Blogging Start कर सकते हैं फिर आगे चलकर ज्यादा जरूरत पड़ने पर आप लैपटॉप या डेक्सटॉप का चुनाव कर सकते हैं।

हमने भी आज से 4 साल पहले मोबाइल से ही ब्लॉगिंग शुरू किया था इसके लिए आपके पास कम से कम 4GB रैम और एक अच्छा प्रोसेसर वाला मोबाइल होना चाहिए जिससे आपको ब्लॉगिंग में ज्यादा दिक्कत ना आवे।

Blogging में होने वाला सभी काम आप अपने मोबाइल से कर सकते हैं लेकिन अगर आपके पास लैपटॉप या डेक्सटॉप है तो काम तेजी से होता है।

ब्लॉगिंग का शुरुआत आप अपने मोबाइल से ही बिना किसी दिक्कत के कर सकते हैं जब आपका ब्लॉग बड़ा हो चले और मोबाइल से इसे चलाने में दिक्कत होने लगे तो फिर आप लैपटॉप या डेक्सटॉप खरीद सकते हैं।

अब यदि आप ब्लॉगिंग करने का सोच लिया है और आप अपना एक नया ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो ब्लॉगर प्लेटफार्म पर नया ब्लॉग बनाने का फुल प्रोसेस गाइड को यहां देखें। Free Blog Kaise Banaye

और यदि आप WordPress पर Blog बनाना चाहते हैं तो इस प्रोसेस को भी हमने एक संपूर्ण पोस्ट में लिखा है यहां दिए गए गाइड को पढ़ें WordPress Blog Kaise Banaye और अपना वर्डप्रेस ब्लॉग बनाना सीखे।

Blogging से जुड़े कुछ सवाल एवं जवाब

Q- ब्लॉग क्या है उदाहरण सहित समझाएं

ब्लॉग एक स्कूल या पाठशाला के तरह होता है जैसे स्कूल या पाठशाला में शिक्षक बच्चों को ज्ञान देते हैं वैसे ही आप अपने ब्लॉग पर लोगों के लिए जानकारियां शेयर कर सकते हैं।

Q- ब्लॉगिंग करना कैसे सीखे?

Google और YouTube ये दोनों ज्ञान का भंडार है ब्लॉगिंग से संबंधित जानकारियां आप इन दोनों जगहों पर सर्च करके पा सकते हैं। हमने भी आज से करीब 6 साल पहले इन्हीं दोनों जगहों से ब्लॉगिंग करना सीखा।

Q- हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास?

हिंदी ब्लॉगिंग का इतिहास बहुत पुराना नहीं है सन 2014 के पहले इंटरनेट पर हिंदी ना के बराबर हुआ करता था लेकिन 2014 के बाद वेब जगत में हिंदी का विस्तार काफी तेजी से हुआ और आज पूरा इंटरनेट पर हिंदी छा गया है।

Q- Hindi vs Hinglish Blogging?

Hindi और Hinglish दोनों ही भाषा में ब्लॉग उपलब्ध है लेकिन हम आपको यही सलाह देंगे कि या तो आप हिंदी में ब्लॉग बनाएं या फिर इंग्लिश में क्योंकि Hinglish में यूजर को पढ़ने में दिक्कत होती है।

Q- ब्लॉग से कितना कमाया जा सकता है?

ब्लॉगिंग में पैसे का कोई लिमिट नहीं है आप एक रुपए से लेकर अनलिमिटेड पैसे कमा सकते हैं हमने बहुत से ऐसे हिंदी या इंग्लिश ब्लॉगर्स को देखा है जो महीने का लाखों या फिर करोड़ों रुपए का इनकम कर रहे हैं।

Q- शुरुआती के लिए ब्लॉगिंग प्लेटफार्म?

ब्लॉगिंग की शुरुआत आप Blogger से कर सकते हैं क्योंकि ये पूरी तरह से फ्री होता है। आज भी लाखों ऐसे ब्लॉग हैं जो ब्लॉगर पर बने हुए हैं और महीने का लाखों या करोड़ों रुपए का इनकम कर रहे हैं। आप चाहें तो आगे चलकर अपने ब्लॉगर ब्लॉग को वर्डप्रेस पर ट्रांसफर कर सकते हैं।

Q- ब्लॉगिंग के लिए कौन सा विषय चुने?

ब्लॉगिंग का विषय चुनने के लिए आपको कहीं भी सर्च करने की जरूरत नहीं है आप अपने अंदर देखिए आपके पास कौन से विषय में सबसे ज्यादा जानकारी है उसी विषय पर ब्लॉग बनाएं ताकि उच्च क्वालिटी का पोस्ट लिख सकें।

ये भी पढ़ें
Website का Bounce Rate कम कैसे करें

Free Blog Promotion कैसे करें

और अंत में

हिंदी में एक कहावत कही जाती है “नाधा तो आधा” यानी जब आप किसी काम का शुरुआत कर देते हैं तो इसका मतलब ये हुआ कि आपने आधा सफर तय कर लिया इसलिए अगर आप ब्लॉगिंग के क्षेत्र में आना चाहते हैं तो फिर देर किस बात की आज ही से शुरू हो जाइए।

हमें उम्मीद है इस पोस्ट Blogging क्या है ब्लॉगिंग कैसे करें? को पढ़कर आप अपने सभी सवालों का जवाब पा लिए होंगे, अगर अभी भी आपके पास इस पोस्ट से जुड़ी कोई सवाल है या आप यहां पर कोई सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर पधारें।

3 thoughts on “Blogging क्या है ब्लॉगिंग कैसे करें?”

Leave a Comment