नया Blog पर Traffic कैसे लाएं – कारगर एवं वैध तरीका

क्या आप जानना चाहते हैं कि Naya Blog Par Traffic Kaise Laye तो मुझे पूरा उम्मीद है कि इस पोस्ट को पढ़कर आपके इस समस्या का समाधान हो जाएगा।

यहां पर हम आपके blog का traffic से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें शेयर करेंगे और इन नियमों को हम खुद भी फॉलो करते हैं तो अगर आप यहां पर बताए गए बातों को अपने ब्लॉग पर लागू करते हैं तो हम आपको विश्वास दिलाते हैं की एक से दो महीने के अंदर आपके नए या फिर पुराने जैसा भी ब्लॉग है traffic आना शुरू हो जाएगा।

Naya Blog Par Traffic Kaise Laye

पिछले पोस्ट में हमने एक नया ब्लॉग बनाना, ब्लॉग की जरूरी सेटिंग्स को पूरा करना, ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करना, गूगल एनालिटिक्स से कनेक्ट करना एवं ब्लॉग पर पेजेस बनाना ये सभी विषय को कवर कर लिया है।

अब इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि अपने Blog Par Traffic Kaise Laye और ये विषय सबसे महत्वपूर्ण होता है क्योंकि आप सब कुछ कर लेते हैं और अगर आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक ही नहीं आता है तो फिर वो किस काम का।

नया ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाएं

१. अपने ब्लॉग का कैटेगरी एक ही विषय को ना कवर करके बल्कि उससे मिलते-जुलते अन्य विषय को भी कवर करें, उदाहरण के लिए आप अपने ब्लॉग पर blogging से संबंधित article लिखते हैं तो आप उस पर यूट्यूब से जुड़ी जानकारी भी डालिए या फिर और भी विषय जो ब्लॉगिंग से मिलता जुलता हो उसको आप ले सकते हैं।

इससे आपके blog का दायरा बढ़ेगा और आपके पास लिखने के लिए बहुत सारे आर्टिकल होंगे। आप बिल्कुल ही अलग विषय डालकर खिचड़ी ना बनाइए लेकिन जो विषय आपने चुना है उससे मिलते-जुलते दूसरे विषय को ले सकते हैं।

जब आप एक ही विषय को लेकर बैठ जाएंगे तो आपके पास इतना आर्टिकल कहां से आएगा उस विषय पर आप कितना लिख पाएंगे? इसलिए उस विषय से मिलते जुलते अन्य दूसरे विषय को भी जोड़ के अपने blog का दायरा आपको बढ़ाना होगा।

२. अगर आपको blogging के दुनिया में आगे बढ़ना है पैसा एवं पैसे के साथ ही नाम कमाना है तो फिर फ्री वाले ब्लॉगिंग को ना चुनिए जैसे बहुत से लोग ब्लॉगर पर फ्री blogspot domain के साथ में blog बना लेते हैं या फिर इसके अलावा भी और कई प्लेटफार्म हैं जो आपको फ्री में अपना होस्टिंग देता है।

थोड़ा पैसे खर्च करिए और WordPress को चुनिए यहां पर आप एक अच्छा hosting company का shared hosting plan ले सकते हैं और GoDaddy से domain लेकर अपना blog start कर सकते हैं।

जब आप blog बनाते हैं तो स्टार्टिंग में आपके ब्लॉग पर विजिटर नहीं आते हैं तो उस समय आप शेयर होस्टिंग से काम चला सकते हैं आगे चलकर जब आपके ब्लॉग पर डेली का 1000 या इससे ज्यादा विजिट होने लगे तो आप इनका बड़ा प्लान को परचेस कर सकते हैं।

३. अगर आपने WordPress पर blog बनाया है तो वर्डप्रेस थीम का ही चुनाव करें किसी ऐसे थीम को न चुने जो ज्यादा हैवी हो इससे आपके ब्लॉग का loading speed slow होगा और ऐसे में आपका blog का परफॉर्मेंस खराब होता जाएगा।

google भी उन्हीं लोगों के blog को आगे बढ़ाता है जिनके ब्लॉग का लोडिंग स्पीड फास्ट होता है तो इसके लिए आपके ब्लॉग का होस्टिंग भी अच्छी कंपनी का होना चाहिए और उसमें इस्तेमाल हो रहे हैं theme और plugin का चुनाव भी हमें सही रूप से करना होता है।

अनावश्यक plugin से बचें जितना जरूरत है उतना ही प्लगइन का इस्तेमाल करिए क्योंकि इनसे भी आपके ब्लॉग का loading speed धीमा होता है।

४. अपने blog पर पोस्ट लिखते समय उस पोस्ट के लिए जो कैटेगरी उपयुक्त हो उसी कैटेगरी को चुने ऐसे नहीं की आपने किसी और कैटेगरी में पोस्ट लिखा और उसको किसी और category में डाल दिया ऐसे में आपका ब्लॉग का स्ट्रक्चर खराब होता है।

आप अपने blog का स्ट्रक्चर पहले से सही से बनाइए जिसे search engine समझ सके और उस विषय को कोई सर्च करें तो आपका ब्लॉग पोस्ट ऊपर आए, स्ट्रक्चर मतलब आपके ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल कुछ इस प्रकार होना चाहिए domain+category+publish url.

5. आपके blog post में title, discription और url के ऊपर खास करके ध्यान दें और इसे अपने पोस्ट के अनुसार ही डालें, अगर आपका ब्लॉग वर्डप्रेस पर है तो इन बातों का ध्यान yoast seo plugin के द्वारा रखा जा सकता है लेकिन अगर आपका ब्लॉग ब्लॉगर पर है तो इसे आप को खुद ही करना होता है।

आपके blog post का title, discription और url seo-friendly भी होना चाहिए और user-friendly भी seo-friendly का मतलब हुआ की search engine को समझ में आए कि आपके post में क्या है किस विषय पर है।

और user-friendly का मतलब हुआ की सर्च इंजन में आपके ब्लॉक पोस्ट का यूआरएल और डिस्क्रिप्शन को देखकर लोग यह समझ सके कि आपका blog post किस विषय पर लिखा गया है।

६. अगर आपने अपना ब्लॉग अभी-अभी बनाया है तो seo और off page technique पर ज्यादा ध्यान न देकर आप अपने ब्लॉग लेखन पर ज्यादा ध्यान दें बाकी के काम गूगल के ऊपर छोड़ दें।

blog post ऐसे लिखें कि कोई भी आपके ब्लॉग पर आए तो उस पोस्ट को पढ़ने में दिलचस्पी दिखाएं आपने अपने पोस्ट में क्या लिखा है वो लोगों को समझ में आए और उनको फायदा होवे।

तभी यूजर आपके साइट पर ज्यादा से ज्यादा देर रुकेंगे और इससे गूगल को ये संदेश जाएगा कि आपका ब्लॉग से लोगों को फायदा हो रहा है तभी गूगल आपके पोस्ट को सर्च इंजन में ऊपर लाएगा।

वहीं दूसरी तरफ अगर आपके पेजेस पर लोग आते हैं और तुरंत ही वापस चले जाते हैं तो फिर गूगल को इससे यह संदेश जाता है कि आपने पोस्ट सही से लिखा नहीं है लोगों को पसंद नहीं आ रहा है और फिर आपका blog ऊपर से नीचे की तरफ होता चला जाएगा।

७. जब हम एक नया blog बनाते हैं तो जल्दी से जल्दी रैंकिंग और ट्रैफिक का नशा हमारे ऊपर चढ़ा रहता है लेकिन इसके बजाय हमें लेखन में अपना पूरा ध्यान लगाना चाहिए।

हमें अपना blog post को इस प्रकार लिखना चाहिए जिसको पढ़ने से एक कम ज्ञान वाला व्यक्ति भी समझ पावे और उसके समस्या का समाधान हो पावे और अगर ऐसा आप करते हैं तो फिर गूगल आपके पोस्ट को ऊपर जरूर लाएगा।

क्योंकि google भी यही चाहता है कि उसके प्लेटफार्म पर क्वालिटी कॉन्टेंट हो और उससे लोगों को फायदा हो साथ ही seo भी जरूरी है जिससे जब लोग किसी विषय को सर्च करें तो गूगल उस विषय पर लिखे गए पोस्ट को समझ सके और उसे search engine में ऊपर ला सके।

८. advanced SEO एवं promotion के पीछे हमें तब जाना चाहिए जब हमारा blog कम से कम 6 महीना या फिर 1 साल पुराना हो जाए तब तक हमें सिर्फ post की क्वालिटी पर ही ध्यान देना चाहिए।

blog post लिखते ही सबसे पहला काम होता है उसे Google search console में सबमिट करना ताकि वो google में index हो सके फिर उसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करना चाहिए जैसे फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम इत्यादि प्लेटफार्म पर।

जब अचानक से आपके उस पोस्ट पर सोशल ट्रैफिक आएगा तो गूगल आपके उस पोस्ट का इंप्रेशन ज्यादा से ज्यादा दिखाएगा और फिर यहीं से शुरुआत होता है आपके blog post को search engine में ऊपर आने का काम।

९. शुरुआती में हमें high cpc और high volume के पीछे नहीं भागना चाहिए क्योंकि इन की वर्ड पर बहुत सारे लोग जिनकी अथॉरिटी हाई होती है वो काम रहते हैं और वो कीवर्ड पर आपका नया ब्लॉग कभी रैंक नहीं करेगा।

इसलिए आपको जीरो सीपीसी और लो वॉल्यूम वाला की वर्ड का ही चुनाव करना चाहिए क्योंकि ऐसे कीवर्ड पर कंपटीशन बहुत कम होता है और आपका ब्लॉग पोस्ट का इन की वर्ड पर रैंक करने का चांस ज्यादा होता है।

ये भी पढ़ें
Blog Ko Google Analytics Se Connect Kaise Kare
ब्लॉग की सभी जरुरी सेटिंग्स करना सिखें – Blogger Settings In Hindi

hindi blog ki traffic kaise badhaye

१०. अगर आप हिंदी में blogging करते हैं तो कीवर्ड को इंग्लिश या हिंगलिश में हि लिखना चाहिए या आप हिंदी इंग्लिश और हिंगलिश को मिक्स करके लिख सकते हैं।

उदाहरण के लिए आपके ब्लॉग पोस्ट का विषय है कि ब्लॉक पर ट्रैफिक कैसे लाएं तो आप इस के टाइटल को इस प्रकार लिखें “Blog पर Traffic कैसे लाएं” या फिर आप इसे ऐसे भी लिख सकते हैं Blog Par Traffic Kaise Laye.

११. आप अपने blog post को छोटा ना लिखें बल्कि बड़ा से बड़ा यानी कम से कम पन्द्रह सौ वर्ड या दो हजार या आप चाहे तो तीन हजार वर्ड तक के एक पोस्ट लिख सकते हैं।

बड़ा पोस्ट लिखने के चक्कर में अनाप-शनाप ना लिखें बल्कि उस विषय को पूरी तरह से एक्सप्लेन करें ताकि यूजर को उसके लिए और कोई पोस्ट ना ढूंढना पड़े।

१२. अपने ब्लॉग पोस्ट के लिए इमेज खुद से डिजाइन करें या फिर कुछ ऐसी वेबसाइट है जो आपको फ्री में इमेज प्रोवाइड कराती है जैसे bixabay.com या pexels मैं खुद भी इन साइट्स से इमेज डाउनलोड करता हूं अपने ब्लॉग पोस्ट के लिए।

image download करके सीधे-सीधे पोस्ट में ना डालें बल्कि उसको थोड़ा एडिट करें एवं उसमे अपनी तरफ से कुछ शब्द लिखें अच्छा से डिजाइन करें फिर उसको अपने blog post में डालें।

१३. शुरुआती में डोमेन नेम खरीदते समय उसी नाम को आप हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूजरनेम रखते जाएं। उदाहरण के लिए आपने domain खरीदा blogseohelp.com तो आपका फेसबुक पेज का नाम रहेगा facebook.com/blogseohelp.

ऐसे करके आप अपने सभी सोशल प्रोफाइल का यूजर नेम अपना डोमेन नेम को ही रखें इससे आगे चलकर जब आपका ब्लॉग बड़ा होता जाएगा तो आपके विजिटर इन सभी सोशल प्लेटफार्म पर उसी नाम से आपको तलाश करेंगे।

और अगर इन प्लेटफार्म पर किसी और ने आपका डोमेन नेम को यूजर नेम बना रखा है तो फिर उस व्यक्ति को फायदा होने लगेगा।

अपने सभी सोशल प्रोफाइल पर अपना ब्लॉग का होम पेज का यूआरएल जरूर डालें इससे आपके blog के लिए एक backlink भी मिलेगा और यूजर उसी लिंक के द्वारा आपके ब्लॉग पड़ जाएंगे तो इससे आपको ट्रैफिक का भी फायदा होगा।

Naya Blog Par Traffic Kaise Laye

blogging करना आसान काम नहीं है बहुत मेहनत करना होता है हमें 6 महीने से 1 साल लग जाते हैं हमारे ब्लॉग को ऊंचाइयों तक ले जाने में इसलिए आपको धीरज रखना होता है और समय के अनुसार ही काम करना होता है।

तो हमने यहां पर सीखा Naya Blog Par Traffic Kaise Laye और अगर आप ऊपर बताए गए बातों को फॉलो करते हुए अपना ब्लॉग लिखते हैं तो आपके blog पर Traffic जरूर आएगा।

अगर आपको इस पोस्ट नया ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाएं से संबंधित किसी भी तरह के सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर पहुंचे, हम यहाँ पर आपको website par traffic kaise laye से जुड़ी सभी सवालो का जवाब देंगे।

12 thoughts on “नया Blog पर Traffic कैसे लाएं – कारगर एवं वैध तरीका”

  1. सुशील जी धन्यवाद।
    आपने बहुत अच्छी जानकारी बहुत ही सधे हुए शब्दों में दी। और प्रत्येक बिंदु को सूक्ष्म जानकारी के साथ समझाया।

    Reply
  2. Sir ye post padhake bahot achha laga aapne isame jo tarike bataye hai wo bahot hi useful hai. Thank You

    Reply
  3. हेलो सर मैं भी ब्लॉगिंग करता हूं और मेरे ब्लॉग के आर्टिकल गूगल पर index नहीं हो रहे हैं सर उसके बारे में कुछ मुझे टिप्स दे और मेरे ब्लॉग को चेक करके बताएं सर. Blog – shubhammonitor.blogpot.com

    Reply
  4. Bhut Acha Article Likha hai Apne …Jab se yeh wala Article Read Kia h Mein Daily Apki Website Par AA rahi hu Thank you

    Reply
  5. एक बात आपकी अच्छी लगी ट्रैफिक और रैंकिंग के पीछे नहीं भागना चाहिए बल्कि अच्छा लेखन करना चाहिए।बहुत सुंदर।थैंक्स।

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!