Old Blog Posts Update कैसे करें (Hindi Guide)

Old Blog Posts Update कैसे करें, अगर आपको अपने Blog पर पोस्ट लिखते हुए एक साल या इससे ज्यादा हो चुके हैं तो अब आप नया पोस्ट लिखने के साथ ही अपना सबसे पुराने वाले पोस्ट को भी अपडेट करना शुरू कर दीजिए।

Old Blog Post Update क्यों करें?

जब आपके द्वारा लिखा गया पोस्ट एक साल या फिर इससे ज्यादा पुराना हो जाता है और आप उसे अपडेट नहीं करते हैं तो गूगल उस पोस्ट को डेड पोस्ट मानता है और फिर वो पोस्ट धीरे-धीरे रैंकिंग में डाउन होती जाती है इसलिए अपने पोस्ट को समय के साथ अपडेट करना जरूरी होता है।

इसके अलावा कुछ और मुख्य कारण होते हैं पोस्ट को अपडेट करने का जिसे समझने के लिए नीचे लिस्ट पढ़ें।

  • हो सकता है लिखा गया पोस्ट का महत्व समय के साथ समाप्त हो चुके हो, उदाहरण के लिए अगर आपने अपना पोस्ट में कुछ प्रोसेस बताया था जो समय के साथ प्रोसेस चेंज हो चुका है इसलिए आपको भी उस पोस्ट को अपडेट करके प्रोसेस को नया करना होगा।
  • हो सकता है आपने अपने Blog Post में जो बातें बताई हो वो अच्छी तरह से एवं विस्तार पूर्वक बातें ना हो तो आप उस पोस्ट को अपडेट करके बताई गई बातों को और भी विस्तारपूर्वक एवं सरल शब्दों में कर सकते हैं, इससे वो पोस्ट पुनः Search Engine में ऊपर के तरफ आने लगेगा।
  • हो सकता है जब आपने अपने उस पुराने Post को लिखा हो तो अच्छी तरह से SEO Optimized ना किया हो इसलिए अब समय आ गया है उस पोस्ट को अपडेट करें एवं एसीओ ऑप्टिमाइज्ड करें जिससे आपका वो पोस्ट Search Engine में दोबारा से ऊपर के तरफ आवे।
  • हो सकता है आपने अपना पुराना पोस्ट लिखते समय ग्रामर मिस्टेक किया हो, अगर ऐसा है तो भी आप उस पोस्ट को अपडेट करके ग्रामर में सुधार कर सकते हैं और अपने उस Old Post की Ranking बढ़ा सकते हैं।
  • हो सकता है जब आपने उस पोस्ट को लिखा था तो उसी समय के लिए महत्वपूर्ण था अब उस पोस्ट का महत्व खत्म हो गया हो, ऐसे पोस्ट को आप अपडेट करके नया समय के अनुसार कर सकते हैं जिससे आपका वो पुराना Blog Post वापस Search Engine में Rank करने लगेगा।
  • अगर आपके द्वारा लिखा गया पुराना पोस्ट में सब कुछ ठीक है तो भी आप उस पोस्ट को अपडेट कर के कुछ और नई बातें उसमें ऐड करके अपडेट कर सकते हैं इससे भी आपका पोस्ट वापस सर्च इंजन में चलना शुरू होगा।
  • अगर आप अपने एक साल से भी ज्यादा पुराने पोस्ट को अपडेट नहीं करते हैं और उसमें बताए गए प्रोसेस पुराना हो चुका है जो वर्तमान समय में काम नहीं कर रहा है तो फिर आपके उस पेज पर आए हुए विजिटर बिना कोई प्रतिक्रिया दिए तुरंत ही वापस हो लिया करेंगे और इससे आपके साइट का बाउंस रेट बढ़ेगा।
  • आपके एक पुराने आउटडेटेड पोस्ट के वजह से आपके साइट का Bounce Rate बढ़ सकता है और ये आपके पूरे वेबसाइट को प्रभावित कर सकता है इसलिए उन पुराने पोस्ट को या तो अपडेट करें या फिर उसे डिलीट करें।

Older posts Update Tools

अब हम आपको कुछ ऐसे Tools के बारे में बता रहे हैं जो आपके पुराने पोस्ट को अपडेट करते समय आपका हेल्प करेगा।

  • Grammarly (Chrome Extension)
  • Broken Link Checker (WordPress plugin)
  • Pixabay.com (रॉयल्टी फ्री इमेज डाउनलोड करने के लिए वेबसाइट)
  • Yoast SEO (WordPress SEO Plugin)

Grammarly एक chrome-extension है आप अपने क्रोम ब्राउजर में इस एक्सटेंशन को ऐड कर सकते हैं फिर आप अपने पोस्ट को अपडेट या नया पोस्ट लिखते समय इस टूल के माध्यम से ग्रामर मिस्टेक को सुधार सकते हैं।

Pixabay एक ऐसा वेबसाइट है जहां से आप अपने Blog के लिए रॉयल्टी फ्री इमेज डाउनलोड करके इस्तेमाल कर सकते हैं। मैं खुद इस साइट को पिछले 3 साल से अपने ब्लॉग में इमेज के लिए इस्तेमाल कर रहा हूं।

Yoast SEO या Rank Math SEO वर्डप्रेस प्लगइन है आप इस प्लानिंग के माध्यम से अपना पुराने पोस्ट को अपडेट करते समय या नया पोस्ट लिखते समय उस पोस्ट को seo-friendly बना सकते हैं।

ये भी पढ़ें
DMCA Protection क्या है Blog को DMCA से कैसे जोड़ें

Blogging Se Paise Kaise Milte Hai हिंदी में

Old Blog Posts Update कैसे करें

old blog posts update कैसे करें

old blog posts update कैसे करें – आज के समय में ब्लॉगिंग के क्षेत्र में बहुत ज्यादा कंपटीशन हो चला है अगर आप नए पोस्ट लिखने के साथ अपने पुराने पोस्ट को समय के अनुसार अपडेट नहीं करेंगे तो फिर आप अपने प्रतिद्वंदी के सामने पीछे हो जाएंगे।

जब हम अपने Blog पर कोई New Post डालते हैं तो आगे चलकर समय के अनुसार उस पोस्ट का महत्व धीरे-धीरे कम होने लगता है और फिर लास्ट में बिल्कुल ही समाप्त हो जाता है जिसे गूगल डेड पोस्ट समझ के Search Engine से हटा देता है।

अगर आप अपने पुराने Blog Post को समय के साथ अपडेट करते रहे तो फिर वो पोस्ट टॉप में बना रहेगा क्योंकि उस पोस्ट पर आने वाले विजिटर उस पोस्ट को पढ़ा करेंगे एक पेज से दूसरे पेज पर जाएंगे और इससे गूगल के पास एक पॉजिटिव संदेश जाएगा और फिर गूगल आपके उस पोस्ट को रैंकिंग में अच्छा पोजीशन पर बनाए रखेगा।

आप अपने साइट पर उन पुराने पोस्ट को चिन्हित करिए जिस पर इंप्रेशन आना कम हो गया है और ट्रैफिक भी कम होने लगा है, ऐसे पोस्ट को आप गूगल के ही द्वारा बनाया हुआ वर्डप्रेस प्लगइन Site Kit के माध्यम से चेक कर सकते हैं।

अब हम old blog posts update कैसे करें के बाद हमें अपने पोस्ट के कौन-कौन से हिस्से को अपडेट करना चाहिए क्या क्या बदलाव करना चाहिए इसकी जानकारी लेने वाले हैं।

1 Blog Post के Title में बदलाव करें

जब हम अपने किसी भी Old Blog Post को Update करने के लिए उसे एडिट मोड में ओपन करते हैं तो सबसे पहले और सबसे ऊपर उस में डाला गया Title में बदलाव करने पर विचार करिए।

क्योंकि सर्च इंजन में आपके Blog Post के Title और Meta Description ये दो ही हिस्सा दिखता है इसलिए टाइटल को आकर्षित बनाएं एवं टाइटल में मेन कीवर्ड का होना जरूरी होता है अगर पहले से आपने ऐसा नहीं किया है तो अपडेट करते समय अपने टाइटल को बदलें।

हमारे Blog Post के Title में ज्यादा से ज्यादा 10 Word या 50 Characters ही होना चाहिए, आप इससे ज्यादा भी वर्ड या कैरेक्टर्स डाल सकते हैं लेकिन उसका कोई फायदा नहीं होता है सर्च इंजन में इतने ही वर्ड या करेक्टर्स दिखाई देते हैं।

2 Blog Post में डाला गया Image में बदलाव करें

Title के बाद आप अपने पोस्ट में feature image या अन्य इमेज को बदलने पर विचार करें, अगर अपने उस पुराने पोस्ट को डालते समय फीचर इमेज को सही तरीके से डिजाइन नहीं किया था तो आप एक बढ़िया सा इमेज डिजाइन करके उस पुराने इमेज को बदल सकते हैं।

अपने Blog Post में फीचर इमेज या अन्य कोई सा भी इमेज की साइज को कम से कम रखें ताकि वो तेजी से लोड हो सके, इमेज डिजाइन करने के बाद उसे किसी कंप्रेसर में डालकर कंप्रेस करें और उसके फाइल के साइज को छोटा से छोटा करें साथ ही इमेज की क्वालिटी पर भी ध्यान रखें।

3 Last Update Date दिखना चाहिए

आपको अपने WordPress Blog के थीम के कोडिंग में कुछ बदलाव करना होगा और ऐसे करके आप अपने पोस्ट में Last Update Date अपने विजिटर को दिखा सकते हैं।

जब आप अपने Blog के थिम के कोडिंग में थोड़ा सा बदलाव कर देंगे तो फिर आप जब भी अपने पोस्ट को अपडेट किया करेंगे तो पोस्ट में ऊपर ही Last Update Date सो किया करेगा और इससे आपके विजिटर ये समझ पाएंगे कि आप अपने पोस्ट को समय-समय पर अपडेट करते हैं।

4 Post को SEO Optimized करें

अगर आपने अपना Old Blog Post को लिखते समय SEO का ध्यान नहीं दिया था तो अब समय आ गया है आप इसे अपडेट करते समय seo-friendly बनाएं इसके लिए आप Yoast SEO Plugin या Rank Math SEO Plugin को फ्री में यूज कर सकते हैं।

older posts को अपडेट करते समय SEO optimised करने का मतलब हुआ कि आप उस पोस्ट का heading, subheading, category, keyword density, feature image इत्यादि में बदलाव कर सकते हैं।

5 Post में Broken Link को Fix करें

पोस्ट बहुत ज्यादा पुराना हो जाने के बाद उस पोस्ट के Interlinking या outbound link को भी चेक करना जरूरी होता है क्योंकि कई बार पोस्ट में डाला गया लिंक या तो टूट चुका होता है या फिर बदल दिया गया होता है।

जब आपके older Blog Post में डाला गया Link काम नहीं करता है तो इसे ही Broken Link बोलते हैं और ऐसा होने पर आपके पोस्ट के Ranking पर बुरा प्रभाव पड़ता है इसलिए पोस्ट अपडेट करते समय पहले से डाले गए लिंक को भी चेक करें और टूटा हुआ लिंक मिलने पर उसे चेंज करें।

6 Post में Link Add करें

Old Blog Post को Update करते समय उसमें अपने उसी ब्लॉग के और उसी कैटेगरी से संबंधित दूसरे नए पोस्ट के लिंक डालें इसे ही इंटरलिंकिंग कहा जाता है।

अच्छी तरह से Interlinking करना भी SEO का एक बड़ा पार्ट होता है इससे आपके उस पोस्ट की अथॉरिटी भी बढ़ती है। इंटरलिंकिंग के साथ ही उचित आउट बाउंड लिंक भी डालने की कोशिश करें।

7 Old Post में नई सामग्री जोड़ें

पुराने पोस्ट को अपडेट करते समय उसमें लिखी गई सामग्री में भी बदलाव करें और अलग से भी कुछ लाइन लिखकर जरूर ऐड करें। आप चाहें तो पुराने कुछ लाइन को डिलीट भी कर सकते हैं जो इस समय किसी काम के नहीं है।

कुल मिलाकर उस पोस्ट को इस तरीके से बनाएं ताकि पढ़ने वाले को कुछ सीखने को मिले और उस पोस्ट पर आए हुए विजिटर उस पोस्ट से प्रभावित होकर उसमें किया गया इंटरलिंकिंग के द्वारा दूसरे दूसरे पेज पर भी जाएं।

ये भी पढ़ें
Website को Cloudflare CDN से Connect कैसे करे

Page Speed Insights क्या है Website की Speed कैसे देखें

8 Meta Description में बदलाव करें

जब आप अपने old Post को अपडेट करते समय लिखी गई सामग्री में बदलाव करते हैं तो फिर आपको Meta Description में भी बदलाव करनी चाहिए।

ये meta description सर्च इंजन में टाइटल के साथ दिखता है इसलिए इसमें आपका मेन कीवर्ड का होना जरूरी है और आकर्षक भी होना चाहिए ताकि विजिटर आपके साइट को ओपन करें।

9 Post में नये Keyword डालें

आपने अपना old Blog Post जिस भी keyword पर लिखा था उस कीवर्ड को किसी कीवर्ड रिसर्च टूल में डाल कर एक बार फिर से Keyword Research करें और नए-नए कीवर्ड पुराने पोस्ट को अपडेट करते समय जरूर डालें।

आप अपना Blog Post में एक से ज्यादा कीवर्ड को टारगेट कर सकते हैं आपने जिस तरह से पहला कीवर्ड को पोस्ट टाइटल, यूआरएल, मेटा डिस्क्रिप्शन एवं अन्य सभी जगह पर डाला था वैसे ही दूसरे नए कीवर्ड को भी डाल सकते हैं।

हर किसी कीवर्ड पर समय के साथ सर्च वॉल्यूम घटता है या बढ़ता रहता है आप अपने पुराने पोस्ट को अपडेट करते समय उस में डाला गया किवर्ड के सर्च वॉल्यूम और कंपटीशन को चेक कर सकते हैं और आप चाहें तो वर्तमान समय में चल रहे किसी अच्छे Keyword को चुन सकते हैं और पुराने कीवर्ड को रिमूव कर सकते हैं।

10 Post के URL में बदलाव करें

जरूरत पड़ने पर आप अपने Old Blog Post के URL में भी बदलाव कर सकते हैं। अगर आप पहले पोस्ट लिखते समय अपने यूआरएल में मेन कीवर्ड नहीं डाला था तो आप इसे बदल सकते हैं

पहले WordPress पर किसी भी पोस्ट के यूआरएल में बदलाव करने पर पहले से रैंक कर रहे उस पोस्ट के लिए समस्या होती थी और हमें उस यूआरएल को नए यूआरएल पर रीडायरेक्ट करना पड़ता था लेकिन अब वर्डप्रेस डिफ़ॉल्ट रूप से आपके किसी भी पोस्ट में बदले गए यूआरएल को नए यूआरएल पर रीडायरेक्ट कर देता है।

आप अपने Blog Post के URL को तभी बदले जब बहुत जरूरी हो वरना किसी भी पोस्ट के यूआरएल को बिना मतलब में बार-बार बदलाव नहीं करना चाहिए।

Old Post Update करने के क्या है फायदा

एक साल से भी ज्यादा पुराना पोस्ट जिसमें बताया गया प्रोसेस अब पूरी तरह से चेंज हो चुका है वो एक मरा हुआ पोस्ट कहा जाता है इसे गूगल डेड पोस्ट मानता है क्योंकि ये यूजर के लिए किसी काम का नहीं होता है।

ऐसा नहीं है कि सभी पोस्ट एक साल से ज्यादा पुराना हो जाने पर डेड पोस्ट हो जाता है लेकिन कुछ पोस्ट ऐसे हो सकते हैं जिसको हमें चिन्हित करके समय-समय पर अपडेट करना चाहिए।

पुराने डेड पड़े पोस्ट को अपडेट करने से वो फिर से search engine में Rank करने लगता है, उस पोस्ट की क्वालिटी में सुधार आती है और उस पोस्ट पर यूजर आते हैं तो अपना प्रतिक्रिया देते हैं और पोस्ट अपडेट करने के बाद आपको फिर से एक बार शेयर करने का मौका मिलता है।

ये भी पढ़ें
Blog Ko Google Analytics Se Connect Kaise Kare

Website के लिये Business Email ID कैसे बनायें

और अंत में

तो ऊपर हमने आपके older Blog Post जो की डेड पड़े हुए थे उनको अपडेट करने का फुल प्रोसेस बताया एवं इसके लिए सावधानियां के ऊपर भी बात की। आप इन बातों को फॉलो करके अपने पुराने Blog Post की Ranking को बढ़ा सकते हैं।

हमें उम्मीद है आपको इस पोस्ट Old Blog Posts Update कैसे करें से बहुत कुछ सीखने को मिला होगा अगर ऐसा है तो नीचे कमेंट करके अपना प्रतिक्रिया जरूर दें और अगर आपके पास इस पोस्ट से संबंधित कोई सवाल है तो वो भी लिखें।

2 thoughts on “Old Blog Posts Update कैसे करें (Hindi Guide)”

    • सलाह के लिए धन्यवाद लेकिन बैकलिंक्स के विषय में पहले से ही दो पोस्ट लिखे जा चुके हैं आप उसे पढ़ें!

      Reply

Leave a Comment