WordPress blog setting कैसे करें wordpress setting in hindi

wordpress setting in hindi अगर अपने वर्डप्रेस पर एक नया ब्लॉग बना लिया है तो wordpress blog setting कैसे करें ये सवाल आपके मन में जरूर घूम रहा होगा, क्योंकि ब्लॉग बनाने के बाद सबसे पहले वर्डप्रेस की जरूरी सेटिंग्स को एनेबल या डिसेबल करना जरूरी होता है।

wordpress setting in hindi

कई बार कुछ नए Blogger अपना wordpress blog बनाने के बाद वो उस पर पोस्ट लिखना और फिर उसे शेयर करना शुरू कर देते हैं लेकिन क्योंकि हम ब्लॉगिंग लंबे समय तक के लिए शुरू करते हैं यानी ये कहें कि हम इसे लाइफ टाइम के लिए करते है।

ऐसा नहीं है कि हमने 2 से 4 महीना ब्लॉग पर काम किया और फिर छोड़ दिया इसलिए अपने new blog पर काम स्टार्ट करने के पहले इसकी सभी जरूरी सेटिंग्स को ठीक करना बेहद जरूरी होता है, क्योंकि इस सेटिंग्स मे बाद में बदलाव करने से हमारे blog के SEO के लिए काफी नुकसानदायक होता है इसलिए इसे ब्लॉग बनाने के साथ ही पूरा कर लेना चाहिए।

हमारे wordpress blog में कुछ setings ऐसे होते हैं जिन्हें आप कभी भी बदल सकते हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है लेकिन कुछ सेटिंग्स ऐसे होते हैं जिनको शुरुआती में सिर्फ एक बार बदला जाता है इसे बार-बार बदलने से हमें काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है।

आपका ब्लॉग नया हो या पुराना आप इस विषय wordpress blog setting कैसे करें को पढ़ें एवं आप अपने अनुसार अपने वर्डप्रेस ब्लॉग के सेटिंग्स में सुधार करें, अगर आपने अपना ब्लॉग अभी-अभी बनाया है तब तो अच्छी बात है लेकिन अगर आपका ब्लॉग कुछ पुराना हो गया आपने यहां पर कुछ काम कर लिया है तो इस स्थिति में अपने ब्लाॅग पर सेटिंग्स को किस प्रकार से सेव करना है ये सभी जानकारी हम इस पोस्ट में बताएंगे।

WordPress Blog Setting कैसे करें

सबसे पहले आप अपने wordpress admin panel में login करें और फिर बाएं साइड में नीचे setings के ऊपर करसल ले जाकर General के ऊपर क्लिक करें, और क्लिक करते ही दाहिने साइड में wordpress general setings ओपन हो जाएगा।

Site Title (wordpress blog setting कैसे करें)

General setings में सबसे ऊपर Title में अपने ब्लॉग का टाइटल डालें, उदाहरण के लिए मेरा ब्लॉग है blogseohelp.com तो मैं यहां पर टाइटल डालूंगा Blog SEO Help और ये टाइटल जब आपके ब्लॉग के साथ ही कोई सर्च इंजन में ढूंढता है तो वहां पर दिखता है।

जब आप अपने ब्लॉग या ब्लॉग पोस्ट को कहीं सोशल प्लेटफॉर्म पर शेयर करते हैं तो वहां भी ये टाइटल दिखता है, अगर आपका ब्लॉग पुराना हो चुका है और आपने अभी तक टाइटल सेक्शन में टाइटल नहीं डाला है तो आप इसे अभी डाल सकते हैं ये SEO के लिए महत्वपूर्ण होता है।

WordPress Tagline seting

टाइटल के बाद नंबर आता है Tagline का, टैग लाइन वाले सेक्शन में एक लाइन में आप अपने वेबसाइट के बारे में लिखें, ये टैगलाइन जब आपके ब्लॉग को कोई सर्च इंजन में सर्च करता है तो वहां पर दिखता है।

या फिर आप अपने ब्लॉग के होम पेज का यूआरएल कहीं पर शेयर करते हैं तो वहां पर टाइटल के साथ यही Tagline सो होता है, इस एक लाइन के टैगलाइन से ही यूजर ये समझ पाते हैं कि आपके साइट किस विषय से संबंधित है और Google को भी आपके साइट के बारे में समझने में आसानी होती है।

आप इस समय जिस blog को पढ़ रहे हैं ये ब्लॉग ब्लॉगिंग से संबंधित है तो इसके लिए टैगलाइन इस प्रकार लिखा जाएगा “wordpress और blogger से जुड़ी सभी जानकारी हिंदी में” आप इस टैगलाइन को और भी ज्यादा आकर्षक बना सकते हैं।

अगर आपने अभी तक Tagline वाले सेक्शन में अपने blog के बारे में नहीं लिखा है तो इसे जरूर लिखें, इससे यूजर और गूगल दोनों को ही आपके साइट के टॉपिक को समझने में मदद मिलती है।

ये भी पढ़ें
Bluehost से Web Hosting कैसे खरीदें

नया Blog पर Traffic कितने दिनों में आता है ?

WordPress Address URL seting

wordpress address url में आप अपने ब्लॉग के होम पेज का यूआरएल डालें उदाहरण के लिए https://blogseohelp.com ऐसे ही आप अपने ब्लॉग के यूआरएल डालें।

Administration Email Address

आप जिस भी ईमेल के द्वारा wordpress को install करते हैं वो ईमेल यहां पर अपने आप आ जाता है, इस ईमेल पते का उपयोग व्यवस्थापक उद्देश्यों के लिए किया जाता है आप चाहें तो इसे चेंज कर सकते हैं, लेकिन जब आप इसे चेंज करेंगे तो आपके नए ईमेल पते पर एक कंफर्मेशन कोड जाता है जिसको कंफर्म करने के बाद ही नया ईमेल यहां पर सेट हो पाएगा।

wordpress Timezone seting

Time zone के आगे ड्रॉप डाउन एरो पर क्लिक करके आप अपना देश चुनें अगर आप भारत से हैं तो Kolkata को चुने और फिर नीचे Date Format में आप ये चुन सकते हैं कि आपके साइट पर दिखने वाला डेट किस फॉर्मेट में दिखे उदाहरण के लिए 18 January 2021 या 2021-01-18 आपको जो फॉर्मेट अच्छा लगे आप उसे चुन सकते हैं।

Time Format में भी आप अपने अनुसार चुन सकते हैं आप 12 घंटे वाला घड़ी चाहते हैं या 24 घंटे वाला सब हो जाने के बाद नीचे Save Changes पर क्लिक करके सेटिंग्स को सेव कर ले।

ध्यान रहे Time Zone में बदलाव तभी करें जब आपका ब्लॉग अभी नया हो अगर आप अपने ब्लॉग पर पहले काम कर चुके हैं और तब टाइम जोन में बदलाव करते हैं तो फिर आप के पुराने वाले और नए वाले पोस्ट में डेट अलग-अलग हो सकते हैं। बाकी के जो ऊपर का बदलाव बताया गया है वो आप कभी भी किसी भी समय कर सकते हैं।

अभी तक हमने setings एरिया में General ऑप्शन में बदलाव किया अब जनरल के नीचे Writing वाले ऑप्शन में बदलाव करेंगे, इसके लिए setings के नीचे jeneral और फिर उसके नीचे Writing के ऊपर क्लिक करें।

WordPress Writing seting

writing के ऊपर क्लिक करते ही इसका सेटिंग्स दाहिने तरफ ओपन हो जाएगा, अब यहां पर default post category के सामने ड्रॉप डाउन एरो पर क्लिक करके आप कोई सा भी एक कैटेगरी चुन सकते हैं वो डिफ़ॉल्ट रूप से बना रहेगा।

जब भी आप कोइ पोस्ट लिखा करेंगे तो वो कैटेगरी डिफ़ॉल्ट रूप से उस पोस्ट के लिए सिलेक्ट हो जाया करेगा फिर आप उस पोस्ट के अनुसार अलग कैटेगरी को चुन सकते हैं।

default post category के नीचे default post format के सामने ड्रॉप डाउन एरो पर क्लिक करके Standard को चुन लें, और फिर नीचे Save Setings के ऊपर क्लिक करके इस सेटिंग्स को भी सेव कर ले।

WordPress Reading Setings

Setings एरिया में हमने general और writing ये दो ऑप्शन को पूरा कर लिया है अब तीसरा है Reading इस सेटिंग में बदलाव करने के लिए Reading के ऊपर क्लिक करें।

Reading के ऊपर क्लिक करते ही दाहिने साइड में इसका सेटिंग्स ओपन हो जाएगा, सबसे ऊपर your homepage displays के सामने आपको दो ऑप्शन मिलेंगे पहला your latest post और दूसरा A static page अगर आप इसमें पहला वाला चुनते हैं तो कोई भी User आप के होम पेज पर आएगा तो आप के सभी नए वाले पोस्ट उसे दिखा करेंगे।

और अगर आप दूसरा ऑप्शन A static page को चुनते हैं तो फिर नीचे Home के सामने ड्रॉप डाउन एरो पर क्लिक करके आप ये चुन सकते हैं की होम पेज में क्या दिखें, और नीचे Post Page के सामने ड्रॉप डाउन एरो पर क्लिक करके भी आप एक अलग पेज चुन सकते हैं।

इस सेटिंग्स को आप अपने पसंद के अनुसार ही चुने अब इसके नीचे blog pages show at most के सामने डब्बा में आप अपने होम पेज पर सो होने वाले पोस्ट की गिनती चुन सकते हैं, अगर आप यहां पर नंबर 6 रखते हैं तो फिर आप के होम पेज पर 6 पोस्ट दिखा करेंगे।

अगला ऑप्शन for each post in a field include के सामने full tex पर टिक मार्क करें एवं उससे भी नीचे आखिरी वाला ऑप्शन search engine visibility के सामने एक छोटा डब्बा है इस पर आपको टिक मार्क नहीं करना है वैसे ही छोड़ देना है अब नीचे Save Changes के ऊपर क्लिक करके इस wordpress blog seting को भी सेव कर लें।

WordPress Discussion

हमने सेटिंग्स एरिया में general, writing, reading इन तीनों सेटिंग्स को पूरा कर लिया है अब चौथा है Discussion इसके ऊपर क्लिक करें, ये सेटिंग्स हमारे पोस्ट पर आने वाले कॉमेंट्स के लिए होते हैं।

discussion पर क्लिक करते ही दाहिने साइड में इसका सेटिंग्स ओपन हो जाएगा अब आप यहां से ये चुन सकते हैं कि आपके साइट पर आने वाला कमेंट मॉडरेशन के लिए रुके या कमेंट करते ही पब्लिश हो जाए।

साथ ही आप ये भी चुन सकते हैं कि कॉमेंट करने वाला क्या-क्या जानकारी देवें, क्या सिर्फ नाम डालकर और कमेंट लिखे तो कमेंट हो जावे या फिर उस युजर का ईमेल भी आप लेना चाहते हैं। इसी सेटिंग्स में आप अपने हिसाब से अपने पसंद के अनुसार सभी ऑप्शन को चुन सकते हैं और फिर नीचे Save Changes क्लिक करके इसे भी सेव कर लें।

मैंने इस ब्लॉग में discussion settings को जिस हिसाब से किया है उस हिसाब से करने के लिए नीचे चित्र देखें, आप चाहें तो अपने हिसाब से कर सकते हैं और आप चाहें तो नीचे दिखाए गए चित्र में ऑप्शन को चुन सकते हैं। (नीचे चित्र देखें)

discussion setings
discussion setings
WordPress Media Setings

discussion के बाद Media Setings की बारी आती है इसके लिए Media के ऊपर क्लिक करें और आप ये चुन सकते हैं कि आपके पोस्ट में feature image या अन्य इमेज किस डायमेंशन में दिखे, अगर आप मेरा बात करेंगे तो मैंने इस ब्लॉग में मीडिया की जो सेटिंग्स की है उसे आप नीचे चित्र में देख सकते हैं। (नीचे चित्र देखें)

media setings
media setings
WordPress Permalink Setings

WordPress Permalink की Setings हमें अपना ब्लॉग बनाने के साथ ही कर लेना चाहिए, अगर आप अपने ब्लॉग पर कुछ दिन काम कर चुके हैं कुछ पोस्ट डाल चुके हैं और तब परमा लिंक में बदलाव करते हैं तो आपके पेजेस जो search engine में rank कर रहे हैं वो ओपन होना बंद हो जाएंगे क्योंकि अभी आपके साइट का लिंक चेंज हो चुका है।

इसके अलावा आपने अपना ब्लॉग या ब्लॉग पोस्ट के लिंक को जहां-जहां शेयर किया था वो लिंक भी काम करना बंद कर देगा, इसलिए ब्लॉग बनाने के साथ ही परमा लिंक की सेटिंग्स को पूरा करना ही बेहतर होता है बाद में इसमें छेड़खानी नहीं करनी चाहिए।

तो अगर आपने अपना ब्लॉग अभी-अभी बनाया है तो परमारलिंक की सेटिंग्स चेंज करने के लिए Parmalink के ऊपर क्लिक करें और दाहिने साइड में इसका सेटिंग्स ओपन हो जाएगा।

अब आप यहां पर यह चुन सकते हैं कि आपके ब्लॉग का यूआरएल किस प्रकार हो, जब आप वर्डप्रेस को इंस्टॉल करते हैं तो आपके ब्लॉक का यूआरएल डिफ़ॉल्ट रूप से इस प्रकार होता है https://example.com/?p=123 लेकिन हमें इसे चेंज करना चाहिए।

हम आपको यही सुझाव देंगे कि आप अपने blog का URL को इस प्रकार रखें https://example.com/ इसके लिए सेटिंग्स में नीचे से दूसरा नंबर Post Name के ऊपर क्लिक करके टिक मार्क करें और फिर नीचे Save Changes के ऊपर क्लिक करके इस सेटिंग्स को सेव कर ले। अब हम wordpress blog setting कैसे करें के इस भाग में प्राइवेसी सेटिंग्स को देखेंगे।

ये भी पढ़ें
Google Analytics Direct Traffic क्या है? जानें हिंदी में

Website का Bounce Rate कम कैसे करें

WordPress Privacy Setings

Setings एरिया में Parmalink के बाद Privacy के ऊपर क्लिक करें और दाहिने साइड में select a privacy policy page के सामने ड्रॉप डाउन एरो के ऊपर क्लिक करें और अपने द्वारा बनाया हुआ privacy policy page को चुने और फिर दाहिने साइड में use this page के ऊपर क्लिक करें।

आपने blog बनाने के बाद privacy policy का पेज जरूर बनाया होगा अगर नहीं बनाया है तो फिर सबसे पहले आप इस पेज को बनाएं फिर इस सेटिंग्स में आकर इस सेटिंग्स को पूरा करें।

privacy settings को पूरा करते ही हमारे wordpress blog setings का लगभग सभी जरूरी सेटिंग्स पूरा हो चुका है, अब आप अपने हिसाब से कोई अच्छा सा Theme का चुनाव करके अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखना स्टार्ट कर सकते हैं।

और अंत में

हमें अपना wordpress blog setings में बार-बार बदलाव नहीं करना चाहिए कुछ बदलाव जैसे Parmalink इत्यादि में बदलाव अपने साइट पर कुछ दिन काम कर लेने के बाद तो बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए जैसे हमने इस विषय में ऊपर बताया भी।

तो हमने यहां पर सीखा wordpress blog setting कैसे करें और हमने वर्डप्रेस की लगभग सभी जरूरी सेटिंग्स को पूरा किया।

हमें उम्मीद है आपके सवालों का जवाब इस पोस्ट में मिल गया होगा, और अगर अभी भी आपके पास इस पोस्ट wordpress blog setting कैसे करें से संबंधित कोई सवाल रह गया हो या फिर आप अपना कोई सुझाव देना चाहते हैं तो नीचे कमेंट करके हमें जरूर बताएं।

4 thoughts on “WordPress blog setting कैसे करें wordpress setting in hindi”

  1. Hey there, You’ve done an excellent job. I’ll definitely digg
    it and personally recommend to my friends. I am sure they’ll be benefited from this website.

    Reply
  2. Meri site me setting ke writing me login name or pass. Change kar diya hai dost ne
    Site 6 month old hai 65 article publish kiye hai ab jo article dalta hu vo search console me index nhi ho rahe hai
    Please btaye ab mujhe kya karna chahiye

    Reply

Leave a Comment